Aug 28, 2010

आरा की मस्तियाँ

जन्मदिन की शुभकामनाओ के लिए आप सबका धन्यवाद...इस बार आरा जाना सबसे अलग रहा... हम सारे भाई बहन बहुत दिनों बाद एक साथ मिले और जम कर शरारते की....आज उन सबसे आपलोगों भी को मिलवाती हूँ...
कीशु जीजी 
कुहू जीजी 
विशेष भैया 

 
सूर्यांश 

मेरी बेस्ट फ्रेंड आर्ची 
क्यूट माहि 
हमारी शरारतें :)        



  


सब इतने परेशां हो गये की हमे जेल में बंद कर दिया 

5 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

बहुत बमचक मचती होगी।

माधव said...

Ara kaa naam sunkar hee dil khushee se bhar uthaa . tasveerein bahut sundar hai , apne dosto se mujhe bhee milaaye. aapke saare dost bahut achchhe hai. mai bhee Ara jaa rahaa hun, Diwalee me .

Chinmayee said...

मज़ा आया तुम्हारे प्यारे साथियों से मिलकर !

Akshita (Pakhi) said...

तब तो खूब मस्ती हुई होगी....बढ़िया है.
_______________________
'पाखी की दुनिया' में अब सी-प्लेन में घूमने की तैयारी...

abhi said...

हा हा हा , मजा आ गया सब बच्चों को साथ देख के :)