Jun 5, 2013

i am back....

अब मेरी शोना बड़ी हो रही है और अब मैं  भी बड़ी हो गयी हूँ . २nd में आ गयी हूँ इसीलिए अब मैं खुद अपना ब्लॉग लिखुगी, हाँ माँ से थोड़ी हेल्प लेती रहूंगी . अब मैं आपको अपनी और अपनी बहन की सारी  मस्तियाँ बताती हूँ . गर्मी की छुट्टी में हम अपने नाना के घर गये थे। मेरे और भी भाई बहन वहां आये थे।  हम सब ने खूब एन्जॉय किया। पता है शोना को मैं ही सुलाती हूँ अपनी पोयम्स सुना कर और जब वो रोना शुरू करती है तो मम्मा से भी चुप नहीं होती फिर मैं उसे झूले में बिठा कर झुलाती हूँ और वो  खुश हो  जाती है. मुझे तो बहुत टेंशन है कल से मम्मा उसे अकेले कैसे संभालेगी क्योकि कल से मेरे स्कूल शुरू हो रहे है।  नए क्लास में नए बुक्स नयी टीचर सब कुछ नया होगा, लेकिन मेरे दोस्त वही सारे होंगे।






2 comments:

shikha kaushik said...

nice to read you and see your photos .carry on .

प्रवीण पाण्डेय said...

बड़ी और प्यारी सोना को देख कर बहुत ही अच्छा लगा।