Sep 11, 2010

पर्युषण पर्व आरम्भ

जय जिनेन्द्र,
आज से पर्युषण पर्व शुरू हो गया| १० दिनों तक चलने वाला ये महा पर्व हम जैनियों के लिए बहुत ही अहम् होता है| इन दिनों में कई सारे व्रत उपवास पूजा पाठ आदि होते है| आज मै आपको कुछ जैन मंदिरों के दर्शन कराती हूँ...

२४ तीर्थंकर  
महावीर जिनालय 








              



पद्धमावती माता

सरस्वती माता 
                                         

9 comments:

HEY PRABHU YEH TERA PATH said...

अनुभव आज अनाथ है
बुद्धि आज बेहोश
पल-पल बढ़ता जा रहा है,
कटु कषाय का दोष
शून्य पड़ी है चेतना
वाणी है लाचार
मन के राजा हो गए-
अंहकार- ममकार
मै भी इस परिवेश में
करता हु नित्य प्रमाद
देकर के "उत्तम क्षमा "
दे अरिहंत प्रसाद!!
खमत खामणा
महावीर जैन

प्रवीण पाण्डेय said...

शुभ पर्व की बधाई।

रानीविशाल said...

पर्युषण पर्व की ढेरों शुभकामनाए
अनुष्का

abhi said...

इशिता, हमारे कुछ जैन मित्र हैं, उनसे इस पर्व के बारे में सुन चूका हूँ..

अच्छे से मनाना,

:)

माधव said...

बहुत सुन्दर, पर्युषण पर्व की ढेरों शुभकामनाए

शायद इसी दौरान क्षमा दिवस भी आता है

Akshita (Pakhi) said...

कित्ती अच्छी जानकारी मिली और मंदिरों के दर्शन भी...

shilpi jain said...

happy prayushan parv .... aur ye mandir kahan ka hai.....

शुभम जैन said...

@ shilpi,

areee shilpi tumhe nahi pata ye mandir kahan hai...dushat ladki thoda to maan se darshan kar liya kar... :)

shilpi jain said...

aacha ji samjh gayi..... mujhe pehle lag raha tha.... bt m nt sure....
mujhe laga sayad ye mumbai ka ho...